एनकाउंटर के बाद गैंगस्टर काला जठेड़ी गैंग के दो शार्प शूटर गिरफ्तार

0

विजय कुमार दिवाकर दिल्ली पुलिस और अपराधियों के बीच बाहरी उत्तरी जिले में जबर्दस्त मुठभेड़ हुई। दोनों तरफ से हुई भयंकर गोलीबारी से पूरा इलाका सन्न रह गया। दोनो तरफ से 22 राउंड गोलियां चली। बाहरी उत्तरी जिला एएटीएस स्टाफ ने काला जठेड़ी और गोल्डी बरार गैंग के 2 शार्प शूटरों को अन्कॉउंटर के बाद गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार दोनों शार्प शूटर गैंगस्टर काला जठेड़ी के इशारे पर गैंगस्टर सुनील ताजपुरिया और दिल्ली पुलिस में तैनात एक सिपाही की हत्या की साजिश रच रहे थे। पुलिस ने इनके पास से दो पिस्टल, चार जिंदा व 8 खाली कारतूस और एक चोरी की बाइक बरामद की है। दोनों शार्प शूटरों की पहचान बहादुरगढ़ हरियाणा निवासी 32 वर्षीय परविंदर अलियास ​​काला और भिवानी हरियाणा निवासी 22 वर्षीय टोनी के रूप में हुई है। बाहरी उत्तरी जिले के डीसीपी बृजेन्द्र कुमार यादव ने बताया की बाहरी उत्तरी जिला एएटीएस की एक टीम गैंगस्टर काला जठेड़ी और लॉरेंस बिश्नोई गैंग के सदस्यों को दबोचने के लिए मुखबिरों की मदद के साथ साथ टेक्निकल सर्विलांस से दिल्ली एनसीआर, पंजाब, हिमाचल और हरियाणा में गैंगस्टरों की मूवमेंट्स और इनफार्मेशन पर काम कर रही है । इसी कड़ी में टीम को दिनांक एक मार्च 2022 को सीक्रेट इनफार्मेशन मिली की हरियाणा और बेंगलुरु की हत्या और डकैती के मामलों में वांटेड बदमाश शार्प शूटर परमिंदर उर्फ काला रात करीब 2 से 2 बजकर 30 मिनट के बीच अलीपुर इलाके में हथियारों के साथ आएगा और काला जठेड़ी के इशारे पर प्रतिद्वंद्वी गैंगस्टर सुनील उर्फ टिल्लू ताजपुरिया और दिल्ली पुलिस में तैनात एक सिपाही की हत्या को अपने साथियों के साथ अंजाम देगा। डीसीपी बृजेन्द्र कुमार यादव ने वांटेड बदमाश और शार्प शूटर परमिंदर उर्फ काला को दबोचने के लिए रिछपाल सिंह एसीपी ऑपरेशन की supervision व इंस्पेक्टर संदीप यादव के नेतृत्व में महिला एसआई रश्मी, एसआई राकेश, बलवान, हेड कांस्टेबल सीतेन्दर खोखर, योगेंदर, आकाश, परवीन, अमित कांस्टेबल अनूप, रोबिन, बृजेश और Hayk Eye Team के मेंबर हेड कांस्टेबल विकाश कांस्टेबल सिद्धार्थ और विशाल की एक टीम का गठन किया। तुरंत ही टीम ने अलीपुर इलाके में जाल बिछाया। दोपहर करीब 2 बजकर 15 मिनट के आसपास जीटी करनाल की सर्विस और नाला रोड से टिवोली फार्म साइड की ओर एक ब्लैक कलर मोटरसाइकिल आती दिखाई दी। मोटरसाइकिल पर दो व्यक्ति सवार थे। टीम ने मोटरसाइकिल सवार को रुकने का इशारा किया लेकिन वह नहीं रुका और पुलिस टीम को देखकर यूटर्न लेकर भागने लगे। टीम ने मोटरसाइकिल का पीछा किया। टीम ने टोनी नामके बदमाश को 100 मीटर की दूरी का पीछा करके और मामूली हाथापाई के बाद दबोच लिया। जबकि वांटेड शार्प शूटर परमिंदर उर्फ काला अपनी पैंट से पिस्टल निकालकर पुलिस टीम की ओर निशाना साधते हुए फायरिंग करने लगा। पुलिस टीम ने भी उसे चेतावनी देने के लिए फायरिंग की लेकिन उसने फायरिंग बंद नहीं की और फिर से पुलिस टीम पर गोलियां चलाने की कोशिश की। 2 गोलियां बुलेट प्रूफ जैकेट से जा टकराई। जवाबी कार्यवाही में पुलिस ने भी लगातार फायरिंग की काफी देर तक चली मुठभेड़ के बाद पुलिस टीम ने उसे भी दबोच लिया। पुलिस टीम ने कुल 14 राउंड गोलियां और 8 राउंड गोलियां आरोपी परविंदर उर्फ ​​काला ने चलाई। तलाशी लेने पर पुलिस ने दोनों से 2 पिस्टल, 4 कारतूस, 8 खाली कारतूस और एक चोरीशुदा मोटरसाइकिल बरामद की है। दोनों शार्प शूटेरों की पहचान बहादुरगढ़ हरियाणा निवासी 32 वर्षीय परविंदर उर्फ ​​काला पुत्र महेन्दर सिंह और भिवानी हरियाणा निवासी 22 वर्षीय टोनी पुत्र मुकेश के रूप में हुई है। पूछताछ पर मालूम चला कि दोनों ही शख्स बदमाश काला जठेड़ी और गोल्डी बरार के शार्पशूटर हैं और उसी के इशारे पर दिल्ली आए थे, जहां उन्हें गैंगस्टर सुनील उर्फ टिल्लू ताजपुरिया और दिल्ली पुलिस में तैनात एक सिपाही की हत्या को अंजाम देना था। पूछताछ में ये बात भी सामने आई कि परमिंदर उर्फ काला बंगलुरु में हुई हत्या के एक केस में वांटेड है और साथ ही दिल्ली में लाहौरी गेट में करीब 24 लाख 7 हजार रुपए की लूट, बेरी झज्जर हरियाणा में हुई 35 लाख रुपए की लूट, सदर झज्जर में हुई 7 लाख की लूट और अंबाला में एक कबूतर बाजी के मुकदमे में भी वांटेड है। सनसनी ऑफ़ इंडिया