सनसनी ऑफ़ इंडिया नेटवर्क
दिल्ली पुलिस ने ‘ठक-ठक’ गिरोह (Thak Thak Gang) के दो संदिग्ध सदस्यों को गिरफ्तार कर उनके पास से एक करोड़ रुपये मूल्य के गहने बरामद किए हैं। ‘ठक-ठक’ गिरोह के सदस्य लोगों का ध्यान भटका कर उन्हें लूटने के लिए जाने जाते हैं।

अधिकारियों ने कहा कि आरोपियों की पहचान इंद्रपुरी के निवासी संदीप (22) और मदनगीर के रहने वाले संतोष (20) के रूप में की गई है। पुलिस ने बताया कि ‘ठक-ठक’ गिरोह ने देशबंधु गुप्ता रोड पुलिस थानांतर्गत रानी झांसी रोड पर बुधवार को गहने छीनने की वारदात को अंजाम दिया था।

पुलिस ने कहा कि मामले की शिकायत पर घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने के बाद लंबे बालों वाले एक आरोपी की पहचान की गई।

पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) अतुल कुमार ठाकुर ने कहा कि पुलिस को वारदात में शामिल दो संदिग्धों के बारे में सूचना मिली थी। इसके बाद पुलिस ने मदनगीर में जाल बिछाकर आरोपियों को पकड़ लिया गया।

डीसीपी ने कहा कि इससे पहले संदीप को 70 लाख रुपये की चोरी की एक वारदात के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने कहा कि दोनों आरोपी चोरी किए गए गहनों के साथ दिल्ली के बाहर भागने की योजना बना रहे थे।

पुलिस ने कहा कि आरोपियों के पास से एक करोड़ रुपये मूल्य के हीरे के गहने बरामद किए गए हैं। पुलिस ने उसने पूछताछ कर उनके गैंग से जुड़े और सदस्यों की जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है।