पुलिस और गैंगस्टरों के बीच मुठभेड़, लारेंस बिश्नोई-काला राणा गैंग के तीन शार्प शूटर्स गिरफ्तार

0

विजय कुमार दिवाकर
शाम का वक्त और अचानक दिल्ली के संसद भवन से चंद दूरी पर बुद्धा गार्डन के पास साइमन बोलिवर रोड पर स्पेशल सेल दक्षिणी रेंज की टीम और स्कॉर्पियो में सवार गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई व काला राणा गैंग के कुख्यात तीन शार्प शूटरों के बीच हुई मुठभेड़ में ताबड़तोड़ गोलियों की आवाज से इलाका गूंज उठा।
स्पेशल सेल दक्षिणी रेंज के एसीपी अत्तर सिंह की सुपरविजन व दबंग इंस्पेक्टर शिवकुमार हूण की टीम को बिहार, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली-एनसीआर व यूपी समेत देश के दूसरे राज्यों में आतंक मचाने व बड़े व नामी कारोबारियों से उगाही करने वाले गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई व काला राणा गैंग के कुख्यात तीन शार्प शूटरों को एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता हाथ लगी है। आरोपी बिहार के कई नामी लोगों से उगाही कर चुके हैं और इनके खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, अपहरण, जबरन वसूली, लूटपाट जैसे संगीन आपराधिक मामले दर्ज हैं। पकड़े गए आरोपियों की पहचान गोपालगंज बिहार निवासी 22 वर्षीय विवेक पुरी, किदारपुरा, पेहवा, कुरुक्षेत्र, हरियाणा निवासी 25 वर्षीय अश्विनी कुमार और हुसुपुरा, हापुड़ निवासी 24 वर्षीय प्रशांत हिंजराव के रूप में हुई है। इनके पास से प्वाइंट 32 बोर की तीन सेमी आटोमैटिक पिस्टल, 13 कारतूस व अपराध में इस्तेमाल स्कार्पियो कार जब्त कर ली गई है।
डीसीपी जसमीत सिंह के मुताबिक स्पेशल सेल दक्षिणी रेंज के एसीपी अत्तर सिंह की सुपरविजन व दबंग इंस्पेक्टर शिवकुमार हूण के नेतृत्व में एक टीम काफी समय से दिल्ली एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और बिहार में गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई के नाम पर रंगदारी मांगने वाले वांटेड शार्प शूटर विवेक पुरी व अन्य गुर्गों की एक्टीवीटी और मुंवमेंट पर नजर रखे हुई थी।
31 मार्च की देर शाम साढे छः बजे स्पेशल सेल दक्षिणी रेंज दबंग इंस्पेक्टर शिवकुमार हूण को सूचना मिली कि लगभग सात साढे सात बजे के आसपास लारेंस बिश्नोई व काला राणा गैंग के तीन शार्प शूटर्स साइमन बोलिवर रोड पर स्कॉर्पियो से किसी वारदात को अंजाम देने आने वाले हैं।
बहुत ही शोर्ट नोटिस में स्पेशल सेल दक्षिणी रेंज के एसीपी अत्तर सिंह के नेतृत्व में दबंग इंस्पेक्टर शिवकुमार हूण की टीम ने बुद्धा गार्डन के पास साइमन बोलिवर रोड पर ट्रेप लगाया।
शाम करीब 7 बजकर 15 मिनट पर वांटेड शार्प शूटर्स स्कोर्पियो गाड़ी से आते हुए दिखाई दिये। इंस्पेक्टर शिव कुमार की टीम ने उन्हें रुकने का इशारा किया लेकिन रुकने के बजाय उन्होंने कार की रफ्तार तेज कर दी। पुलिस टीम को देखते ही वांटेड शार्प शूटर विवेकपुरी और प्रशांत कार से उतरे और पुलिस टीम पर फायरिंग करने लगे। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी एक राउंड गोली चलाई। काफी मश्कत के बाद टीम ने तीनों शार्प शूटरों को दबोच लिया।
पुलिस ने बताया कि वर्ष 2018 में वांडेट शार्प शूटर्स विवेक पुरी और प्रशांत काला राणा ने अपने 6 अन्य साथियों के संग मिलकर हरियाणा के अंबाला में हत्या, हत्या के प्रयास और डकैती की वारदात को अंजाम दिया था। बदमाशों ने ज्वैलरी शोरूम को लूटने के दौरान अंधाधुंध फायरिंग कर एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई थी और एक अन्य को गंभीर रूप से घायल कर दिया था।
पिछले कुछ समय से वांटेड शार्प शूटर विवेकपुरी गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई के नाम पर बिहार के बड़े.बड़े कारोबारियों, ज्वैलर्स, दुकान मालिकों, मेडिकल स्टोर संचालकों से रंगदारी मांग रहा था। हाल में इसने पिछले चार माहिनों में करीब 50 लोगों से रंगदारी मांगी थी। मना करने पर यह लोग कारोबारियों के घरों व उनके दफ्तरों पर फायरिंग कर रहे थे। तीनों के खिलाफ बिहार, पंजाब और हरियाणा में रंगदारी और डकैती, हत्या, हत्या के प्रयास, हमला, धमकी, हथियार अधिनियम आदि के ऐसे कई मामले दर्ज हैं। पुलिस इनसे पूछतीछ कर मामले की छानबीन कर रही है।
वांटेड शार्प शूटर 24 वर्षीय विवेक पुरी पुत्र हरदयापुर गोपालगंज, बिहार का रहने वाला है। इसके खिलाफ बिहार के गोपालगंज के अलावा अंबाला कैंट में चार मामले दर्ज हैं।

12वीं पास शार्प शूटर 24 वर्षीय प्रशांत हिंजराव पुत्र राजिंदर सिंह ग्राम हुसुपुरा, जिला हापुड़, उत्तर प्रदेश का रहने वाला है। पंजाब व अंबाला सिटी हरियाणा में चार अपराधिक मामले दर्ज हैं।

आठवीं पास 25 वर्षीय शार्प शूटर अश्विनी पुत्र श्याम लाल पलवल हरियाणा का रहने वाला है। इसके खिलाफ भी पंजाब व हरियाणा में कई मामले दर्ज हैं। यह पहले मेरठ की फर्नीचर मार्केट में शमशाद अंसारी और मेरठ के ही विक्की ठाकुर उर्फ सरधना से अवैध अवैध पिस्टल खरीदकर हरियाणा और पंजाब के गैंगस्टरों को सप्लाई करता था।
सनसनी ऑफ इंडिया नेटवर्क