सनसनी ऑफ़ इंडिया नेटवर्क
हापुड़ । कोतवाली पुलिस ने बुधवार रात वाहन चोरी करने वाले गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार कर चोरी की पांच बाइक बरामद की हैं। चोरी करने के बाद आरोपित फर्जी दस्तावेज तैयार कर व वाहनों के चेसिस नंबर बदलकर लोगों को बेचा करते थे। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सुबोध कुमार सक्सेना ने बताया कि बुधवार रात क्राइम डिटेक्शन टीम प्रभारी सरवन गौतम अपनी टीम के साथ बुलंदशहर रोड स्थित पुरानी चुंगी के पास चेकिंग कर रहे थे। तभी मुखबिर ने सूचना दी कि वाहन चोरों का एक गिरोह बुलंदशहर से हापुड़ की तरफ आ रहा है। उनके पास मौजूद बाइकें चोरी की हैं। सूचना पर पुलिस टीम ने सख्ती के साथ चेकिंग शुरू कर दी। इस दौरान दो बाइक पर आ रहे दो संदिग्धों को रोका गया।

हापुड़ पुलिस ने वाहन चोरी करने वाले गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार कर चोरी की पांच बाइक बरामद की हैं।

बाइक में फर्जी नंबर प्लेट लगी थी
जांच में उन पर मौजूद बाइकों के कागजात नहीं दिखाने पर गहनता से जांच की गई। जिसमें दोनों बाइक चोरी की पाई गईं। जिन पर फर्जी नंबर प्लेट लगी थी। आरोपितों की निशानदेही पर तीन अन्य चोरी की बाइके भी बरामद हुई है। आरोपित बैंक कॉलोनी निवासी प्रशांत व थाना देहात क्षेत्र के मोहल्ला भीमनगर निवासी दीपक उर्फ होंडा है। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि गिरोह का सरगना दिल्ली निवासी जावेद है। दीपक दिल्ली में बाइक मेकेनिक का काम करता है। प्रशांत की लज्जापुरी मोहल्ले में बाइक मरम्मत करने की दुकान है। चोरी की बाइकों को प्रशांत की दुकान पर लाया जाता था। जहां बाइकों के चेसिस नंबर बदले जाते थे। बाइकों के फर्जी दस्तावेज तैयार कर सीधे-साधे लोगों को बाइक बेच देते थे। कई बार बाइक के पुर्चे अलग-अलग करके मिस्त्री को बेचे जाते थे। पुलिस ऐसे मिस्त्री के बारे में भी जानकारी कर रही है जो चोरी का सामान खरीदा करते थे। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।