सड़क पर खड़ी अकेली लड़की मांगे मदद तो रहें सावधान

0

झांसा देकर लूटपाट करने की वारदातें लगातार बढ़ती जा रही हैं। राजधानी दिल्ली में भी ऐसी घटनाएं हर दूसरे दिन होती दिख जाती हैं। अब मालवीय नगर थाना पुलिस ने एक महिला और उसके दो साथियों को लूटपाट के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक महिला रात के वक्त सड़क पर शिकार की तलाश में घूमती और जैसे ही उसे कोई अकेला शख्स नज़र आता वो उसे कहानी सुनाती कि उसका एक रिश्तेदार घायल हालत में पड़ा है, अगर सामने वाला मदद को तैयार हो जाता तो वो महिला उसे लेकर उस जगह जाती। अब जहां वो महिला लेकर जाती थी, वहां पर पहले से ही उसके साथी मौजूद रहते थे और मौका देखते ही लूट को अंजाम दे देते।

साउथ दिल्ली के डीसीपी अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि 11 जून को मालवीय नगर थाने में रोहित तनेजा नाम का शख्स पहुंचा था। शिकायत में बताया गया था कि 12 जून की रात करीब 1 बजे वो मालवीय नगर में खाना खाने के बाद घर वापस जा रहा था। जब वो साकेत कोर्ट के पास पहुंचा तभी एक महिला ने उसे रुकने का इशारा किया।

रुकने पर उस महिला ने कहा कि उसका एक दोस्त घायल हालत में पास में पड़ा हुआ है। महिला की बात मान कर रोहित उसकी मदद करने के इरादे से साथ चला गया, लेकिन जैसे ही वो महिला की बताई जगह पर गया वहां महिला के दो साथी पहले से ही मौजूद थे और उन्होंने उसे लूटने का काम किया। 10 हजार कैश, क्रेडिट कार्ड और मोबाइल लूटा गया और फिर सभी आरोपी ऑटो में बैठ फरार हो गए।

रोहित की शिकायत पर मालवीय नगर थाना पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली और दक्षिणी दिल्ली हौज खास के एसीपी लक्ष्य पांडे ने तुरंत मामले का संज्ञान लेते हुए अपने मार्गदर्शन में जांच के लिए सतीश राणा एसएचओ मालवीय नगर, एएसआई संदीप, हेड कांस्टेबल अमित, हेड कांस्टेबल और महिला कांस्टेबल सरिता की एक टीम बनाई।। पुलिस ने सबसे पहले इलाके की सीसीटीवी फुटेज खंगाली और फिर ऑटो के नंबर से ट्रैक कर संगम विहार इलाके से महिला समेत तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

पकड़ में आए आरोपियों के नाम चंदन, वर्षा और रोहित हैं. पुलिस ने इनके पास से लूट में इस्तेमाल ऑटो और कैश बरामद कर लिया है। अब पुलिस पूछताछ कर रही है कि इन तीनों ने अब तक कितनों के साथ इसी तरह से लूटपाट की है।

सनसनी ऑफ़ इंडिया नेटवर्क