860 करोड़ की हेरोइन के साथ पति-पत्नी गिरफ्तार

0

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सांठगांठ कर राजधानी में मादक पदार्थों की तस्करी को अंजाम देने वाले अफगानी दंपती को पुलिस ने 125 किलो 840 ग्राम हेरोइन के साथ गिरफ्तार करने में कामयाबी पाई है। हाल-फिलहाल के दिनों में एक साथ इतनी मात्रा में हेरोइन तस्करी का यह पहला मामला सामने आया है। आरोपितों की पहचान मोहम्मद शफी व तरीना के रूप में हुई है। दोनों वजीराबाद से हेरोइन लेकर पश्चिमी दिल्ली के खयाला इलाके में आए थे। यहां से हेरोइन को पंजाब भेजने की फिराक में थे। हेरोइन की तस्करी में मदद करने के लिए शफी अपनी पत्नी को भी साथ रखता था। पुलिस ने आरोपित की कार को जब्त कर लिया है। दोनों को पांच दिन की रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। इस मामले के तार अफगानिस्तान से जुड़ रहे हैं।

खयाला में हेरोइन की खेप देने आया था दंपती
पश्चिमी जिला पुलिस उपायुक्त उर्विजा गोयल ने बताया कि लाॅकडाउन के दौरान बढ़ रही ठगी की वारदात को देखते हुए पुलिस को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं। इसी दौरान शुक्रवार को वाहन चाेरी निरोधक दस्ता पुलिस को जानकारी मिली कि इलाके में हेरोइन की बड़ी खेप आनेवाली है। इसके बाद पुलिस ने इस सूचना के आधार पर छानबीन शुरू कर दी। पुलिस को पता चला कि वजीराबाद से हेरोइन की तस्करी करने के लिए दो लोग खयाला आने वाले हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए इंस्पेक्टर प्रमोद तोमर के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई और खयाला के गंदा नाला रोड स्थित गैस एजेंसी के आसपास निगाह रखनी शुरू कर दी।

अफगानिस्तान से आता था कच्चा माल
शुक्रवार शाम 4.35 बजे एक उजले रंग की कार आई और गैस एजेंसी के पास सड़क किनारे खड़ी हुई। इसके बाद एक पुरुष व एक महिला कार से उतरकर किसी का इंतजार करने लगे। काफी देर बीत जाने के बाद भी जब कोई नहीं आया तो पुलिस की टीम ने और इंतजार करना ठीक नहीं समझा और दोनों से पूछताछ शुरू की। कार की तलाशी लेने पर उसमें सात प्लास्टिक बैग में हेरोइन मिले। इसके बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया।

12 वर्षों से रह रहा है दिल्ली में
पूछताछ के दौरान आरोपित मोहम्मद शफी ने बताया कि वह 12 वर्ष पहले अफगानिस्तान से वजीराबाद आया और हनुमान चौक के पास रहने लगा। वह पहले भी कई बार हेरोइन तस्करी का काम कर चुका है। उसने पुलिस को बताया कि अफगानिस्तान से हेरोइन बनाने का कच्चा माल आता है और हेरोइन तैयार कर पंजाब भेज दिया जाता है। इस कार्य में उसकी पत्नी भी मदद करती है। कार में वह कई बार अपने छह बच्चों को भी साथ रखता था, जिससे कि पुलिस को उसपर शक नहीं हो।

बहुत बड़ा है नेटवर्क
पुलिस सूत्रों ने बताया कि हेरोइन तस्करी का नेटवर्क बहुत बड़ा है। कई मामलों में अफगानिस्तान से कच्चा माल थाइलैंड, मलेशिया व बैंकाक पहुंचता है और फिर इसे भारत लाया जाता है। बाद में अन्य राज्यों में इसकी तस्करी की जाती है। उन्होंने कहा कि इसके पीछे कई बड़ी मछलियां होती हैं। इस मामले में पुलिस पूछताछ में जुटी हुई है और पूरे गिरोह के बारे में पता लगाने का प्रयास कर रही है।

सनसनी ऑफ़ इंडिया नेटवर्क