सनसनी ऑफ़ इंडिया नेटवर्क
नई दिल्ली, फतेहपुर बेरी।
शराब पीने के बाद परांठे खाने की इच्छा को पूरा करने के लिए लूटपाट की गई। साउथ दिल्ली के फतेहपुर बेरी इलाके में यह वारदात हुई। हालांकि, आरोपी ज्यादा लम्बे समय तक पुलिस से बच नहीं सके और चैकिंग के वक्त पकड़े गए। पुलिस ने कुल चार आरोपियों को पकड़ा जिसमें तीन नाबालिग हैं। आरोपियों के पास से लूटा गया मोबाइल और वारदात में इस्तेमाल स्कूटी बरामद की गई है। बालिग आरोपी 20 साल का मंगोलपुरी निवासी चमन है।

फतेहपुर बेरी इलाके में बाइक को रुकवा की वारदात
डीसीपी साउथ डिस्ट्रिक अतुल कुमार ठाकुर ने बताया पिछले साल 26-27 दिसंबर की रात करीब 12 बजे संतोष कुमार सिंह घिटौरनी से अपने घर सेक्टर 45 नोएडा जा रहा था। वह ओला टू व्हीलर पर था। जब वह मांडी रोड पर पहुंचा तो स्कूटी सवार चारों आरोपियों ने उसे रुकवा लिया। एक ने उसका मोबाइल छीन लिया और दूसरे ने जबरन 1200 रुपए जेब से निकाल लिए। वारदात के बाद सभी आरोपी मांडी गांव की ओर फरार हो गए।

पुलिस ने आरोपी चमन और उसके तीन नाबालिग साथियों को पकड़ लिया। इनकी तलाशी लेने पर पीड़ित का लूटा गया मोबाइल चमन के पास मिल गया।

घटनास्थल के आसपास चेक किए गए सीसीटीवी कैमरे
घटना के बाद पीड़ित ने फतेहपुर बेरी थाने में लूट का मुकदमा दर्ज कराया। स्थानीय थानाध्यक्ष कुलदीप सिंह की टीम ने घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज चेक की। वारदात वाले पूरे रुट को देखा गया। जांच में पुलिस को स्कूटी का पता चल गया।

स्कूटी की पहचान होने पर चेकिंग के दौरान पकड़े लुटेरे
21 जनवरी की रात आठ बजे पुलिस ने देवता मोहल्ला सुलतानपुर इलाके में पेट्रोलिंग के दौरान उसी रंग की स्कूटी को देखकर रोक लिया। पुलिस ने आरोपी चमन और उसके तीन नाबालिग साथियों को पकड़ लिया। इनकी तलाशी लेने पर पीड़ित का लूटा गया मोबाइल चमन के पास मिल गया।

आरोपी चमन ने पुलिस को बताया वह 12वीं तक पढ़ा है। वर्तमान में बेरोजगार है। गलत संगति में पड़ वह शराब और ड्रग्स का सेवन करने लगा। इन जरुरतों को पूरा करने के लिए वह अपने तीन साथियों के संग लूट और झपटमारी करने लगा था। आरोपी ने बताया घटना वाली रात शराब पीने के बाद वह पराठा खाना चाहते थे। रुपए नहीं होने की वजह से लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया था।