दिल्ली पुलिस की साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट को एक गुप्त सूचना मिली थी कि ऑटो लिफ्टर का एक गैंग इलाके में आने वाला है जिसके बाद पुलिस ने 9 तारीख की रात बदमाशों को पकड़ने के लिए श्रीनिवासपुरी इलाके में ट्रैप लगाया.

सनसनी ऑफ़ इंडिया न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट ने ऐसे 3 लोगों गिरफ्तार किया है जो कि पहले प्राइवेट नौकरी किया करते थे लेकिन कोरोना के चलते नौकरी जाने में बाद इन लोगों ने गाड़ियों पर हाथ साफ करना शुरू कर दिया.

दरअसल, दिल्ली पुलिस की साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट को एक गुप्त सूचना मिली थी कि ऑटो लिफ्टर का एक गैंग इलाके में आने वाला है जिसके बाद पुलिस ने 9 तारीख की रात बदमाशों को पकड़ने के लिए श्रीनिवासपुरी इलाके में ट्रैप लगाया. सुबह करीब 4.30 बजे के आसपास पुलिस को एक बाइक आती दिखाई दी जिसपर 3 लोग सवार थे.

पुलिस टीम ने जब इन बदमाशों को रोकने का इशारा किया तो बाइक सवार तीनों लोग भागने की कोशिश करने लगे जिसके बाद पुलिस ने इन्हें धर दबोचा.
पुलिस की पूछताछ में इन लोगों बताया कि ये लोग प्राइवेट जॉब किया करते थे लेकिन लॉकडाउन के दौरान इनकी जॉब चली गई जिसके बाद इन लोगों ने गाड़ियों की चोरी करना शुरू कर दिया. चोरी की गई बाइक्स को ये लोग यूपी में 4 से 5 हजार में बेच दिया करते थे. इनके निशाने पर सिर्फ मोटरसाइकिल हुआ करती थी क्योंकि उसका लॉक तोड़ना आसान होता था. बहरहाल, पुलिस ने इन लोगों के पास से 6 चोरी की बाइक भी बरामद की है.