सनसनी ऑफ़ इंडिया
आगरा।
आगरा में यमुनापार के कछपुरा इलाके में महिला की हत्याकर उसका पति फरार हो गया। महिला का सिर कटा धड़ ही घर में मिला। पुलिस उधर उसकी तलाश करती रही और वह पत्नी का कटा हुआ सिर कनस्तर में रखकर थाने पहुंचा। हत्या की वजह अभी साफ नहीं हो सकी है।

एत्माद्दौला के सत्ता मुहल्ला निवासी चोब सिंह की बेटी शांति की शादी 17 वर्ष पहले एत्माद्दौला के कछपुरा निवासी नरेश से हुई थी। नरेश टीवी रिपेयरिंग का काम करता था। उसके एक बेटा सात वर्षीय अंकित और तीन बेटियां हैंं। नरेश शराब पीने का आदी है। पत्नी रोकती थी तो उसे मारता था। रविवार शाम 7:30 बजे नरेश शराब पी रहा था। शांति ने रोका तो गाली गलौज करने लगा। बर्तन फेक दिए इसके बाद शांति को बच्चों वाले कमरे से दूसरे कमरे में खींचकर ले गया। वहां बांक से गला काटकर धड़ से अलग कर दिया। इसके बाद सिर को लेकर फरार हो गया। जिस कमरे में शव पड़ा था उसमें ताला लगाकर चाबी पास में ही रख गया।

महिला की हत्या के बाद मौके पर जुटी भीड़

सुबह बच्चे उठे तो उन्हें मां नही दिखी। बड़ी बेटी पायल ने भाई अंकित को दरवाजे के ऊपर से कमरे में घुसाया, तब हत्या की जानकारी हुई। इसके बाद स्वजनों ने पुलिस बुलाई। पुलिस सोमवार सुबह आरोपित और महिला के गायब सिर की तलाश में जुट गई। एसपी सिटी रोहन बोत्रे, सीओ छत्ता उदयराज सिंह मौके पर पहुंच गए। फोरेंसिक टीम ने भी मौके से नमूने लिए।

हत्या के बाद पानी से साफ किया फर्श
हत्या के बाद आरोपति पति ने कमरे में सुबूत मिटाने के प्रयास किये। उसने बांक पर लगा खून धोया और कमरे का फर्श भी पानी से धुलकर साफ कर दिया।

बच्चों को भी पीटता था
बेटी पायल ने बताया कि उसके पिता शराब पीकर अक्सर मां को मारते थे। रोकने पर वह बच्चों को भी पीटता था और बर्तन फेंक देता था।

ढूंढ़ रही थी पुलिस और खुद पहुंचा थानेे
एत्‍माद्दौला क्षेत्र में सुबह नृशंस हत्‍या की जानकारी मिलते ही थाना पुलिस सक्रिय हो गई। पड़ोसियों से पूछताछ करने के बाद नरेश के हुलिए की जानकारी जुटाकर उसकी तलाश में टीमेें घूम रही थीं। इधर घटनास्‍थल से करीब छह किलोमीटर दूर थाना हरीपर्वत पर सुबह करीब 10.30 बजे पहुंच गया। उसके हाथ में पत्‍नी का सिर था। हत्‍यारोपित को देख पुलिसकर्मी भी सकते में आ गए। आला अधिकारी थाने पर पहुंच गए हैं।