नशेड़ी भाई की शादी के लिए बहन ने किया लड़की का किडनेप

0

विजय कुमार दिवाकर
कालकाजी इलाके में नेहरू प्लेस से एक नाबालिक लड़की का दिनदहाड़े अपहरण कर उसकी जबरदस्ती शादी कराने का मामला सामने आया है। कालकाजी थाना पुलिस ने मानव तस्करी करने वाले इस गैंग का पर्दाफाश कर एक ब्यूटीशियन युवती को उसके भाई व दोस्त के साथ गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से तिगड़ी से नाबालिक लड़की को पांच महीने बाद बरामद कर लिया गया है। युवती का भाई नशेड़ी था इस वजह से उसके भाई की शादी नहीं हो रही थी, इसलिए उसने नाबालिक लड़की का अपहरण कर उसकी अपने भाई से जबरदस्ती शादी कर दी थी।

दक्षिण पूर्व जिला additional डीसीपी सुरेंद्र चौधरी ने बताया की दिनांक आठ अगस्त 2021 को थाना कालकाजी में 15 वर्ष की नाबालिग लड़की के अपहरण की सूचना प्राप्त हुई थी। कालकाजी थाना प्रभारी बलबीर ने बिना समय गवाए धारा 363 आईपीसी के तहत एफआईआर संख्या 551/2021 दर्ज की थी।

नाबालिक लड़की के अपहरण ने कालकाजी थाना पुलिस स्टाफ की नींद उड़ा दी। नाबालिक लड़की को जल्द से जल्द खोजना और वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों को दबोचने के लिए एसीपी कालकाजी प्रदीप कुमार की देखरेख व एसएचओ कालकाजी बलबीर सिंह के नेतृत्व में एसआई रवि कुमार, एसआई प्रदीप मलिक, महिला एसआई कृति, महिला कांस्टेबल सरला, कांस्टेबल वीरेंदर, लोकेश और केशव की एक टीम का गठन किया गया।

SI Ravi Kumar

जाँच टीम को पता चला की पीड़ित का परिवार मूल रूप से राजस्थान के अजमेर का रहने वाला है जो खानाबदोश है और वर्तमान में वे नेहरू प्लेस में फुटपाथ पर रह रहा था।

टीम ने सबसे पहले वारदात स्थल के आसपास लगे सैकड़ों सीसीटीवी कैमरों को खंगाला। सीसीटीवी कैमरों की जाँच ने पुलिस टीम को संगम विहार के तिगड़ी इलाके तक पहुँचाया लेकिन इससे आगे लड़की सीसीटीवी कैमरों में दिखाई नहीं दी। सीसीटीवी फैटेज से एक बात तो कन्फर्म हो गई थी की नाबालिक लड़की का अपहरण करके संगम विहार इलाके में ही कहीं छुपा रखा है।

जाँच टीम ने सस्पेक्ट इलाकों में सिविल ड्रेस में पुलिस टीम को तैनात किया। मुखबिरों का जाल बिछाया। संगम विहार और आसपास के इलाकों में नाबालिक लड़की के गुमशुदकी के ह्यू एंड क्राई के कई नोटिस चिपकाये।

SI Pradeep Malik

जाँच टीम लगातार पीड़ित परिवार के संपर्क में थी। दिनांक दस जनवरी 2021 को लड़की के माता पिता ने कालकाजी थाने आकर बताया की उन्हें उनकी बेटी का फोन आया था। फ़ोन करके लड़की ने बताया की उसको तिगरी एक्सटेंशन कहीं रखा हुआ है इतना बोलकर फ़ोन स्विच ऑफ हो गया था।

पुलिस टीम तुरंत हरकत में आई और जिस मोबाइल नंबर से पीड़िता ने कॉल की थी उसकी लोकेशन निकाली । फोन की लास्ट लोकेशन की जाँच से पता चला कि फोन सी ब्लॉक, तिगरी एक्सटेंशन के क्षेत्र में सक्रिय था। तिगरी एक्सटेंशन घनी आवादी वाला इलाका है। टीम ने हिम्मत नहीं हरी। पुलिस सत्यापन के नाम पर बड़े पैमाने पर घर घर जाकर परिवार के सदस्यों की जानकारी लेनी शुरू की। आखिकार पुलिस टीम सी 130, तिगरी एक्सटेंशन से पीड़ित लड़की का पता लगाने में सफल रही। यहां पर किशोरी को एक युवती व उसके भाई व दोस्त ने जबरदस्ती कैद करके रखा हुआ था।

टीम ने सावधानीपूर्वक ऑपरेशन किया और उन सभी को गिरफ्तार कर लिया।

Woman SI Kriti

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान सरशा, बिहार निवासी 26 वर्षीय रंजन कुमार पुत्र सुनील झा, 28 वर्षीय रंजन कुमारी उर्फ़ ज्योति पुत्र सुनील झा और संगम विहार निवासी 28 वर्षीय दिलीप कुमार पुत्र रामप्रसाद के रूप में हुई। इनके कब्जे से किशोरी को बरामद कर लिया गया।

पूछताछ में पता लगा कि रंजन कुमारी उर्फ ज्योति इस वारदात की मास्टरमाइंड है। रंजन कुमारी ने बताया कि उसे लड़की नेहरू प्लेस में मिली थी। उसे लगा कि लड़की गरीब है और उसे लालच देकर आसानी से फंसाया जा सकता है। दो तीन दिन बाद रंजन कुमारी अपने बॉय फ्रेंड दिलीप कुमार के साथ नेहरू प्लेस पहुंची और किशोरी को नए कपड़ों का लालच दिया। किशोरी अपने छोटी बहन को साथ ले जाने की जिद करने लगी। इसके बाद आरोपियों ने उसका अपहरण कर लिया। उसके बाद आरोपी रंजन कुमारी उर्फ ​​ज्योति ने अन्य आरोपी व्यक्तियों की मदद से नाबालिग लड़की का उसके नशेड़ी भाई रंजन कुमार के साथ सी 130 तिगरी एक्सटेंशन में जबरदस्ती शादी करा दी। जबरदस्ती शादी करने के बाद नाबालिक लड़की को तिगड़ी में एक घर अंदर बंधक बना कर रखने लगे। उसे बाहर निकलने व फोन करने की मनाही थी। 10 जनवरी को जब किशोरी अकेली थी तो उसने अपने घरवालों को फोन कर दिया था।

आरोपी 26 वर्षीय रंजन कुमार पुत्र सुनील झा सरशा बिहार का रहने वाला है। यह आदतन नशेड़ी है। इसने ग्रेजुएशन किया है। इसकी पहले की कोई क्राइम हिस्ट्री नहीं है।

वारदात की मास्टरमाइंड 28 वर्षीय रंजन कुमारी उर्फ़ ज्योति पुत्री सुनील झा भी सरशा बिहार की रहने वाली है। इसने 9वीं तक पढ़ाई की है। यह संगम विहार इलाके में ब्यूटी पार्लर में काम करती है। इसकी भी पहले की कोई क्राइम हिस्ट्री नहीं है।

तीसरा आरोपी 28 वर्षीय दिलीप कुमार पुत्र रामप्रसाद संगम विहार का रहने वाला है। इसने 11वीं तक पढ़ाई की है और यह एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता है। इसकी भी पहले की कोई क्राइम हिस्ट्री नहीं है।

सनसनी ऑफ़ इंडिया नेटवर्क