गैंबलिंग रैकेट का काला सच खुफिया कैमरे मे कैद, डीसीपी ने लिया एक्शन

0

> सनसनी ऑफ इंडिया के खुफिया कैमरे मे कैद हुआ ऑनलाइन कैसीनो की आड़ में गैंबलिंग का काला कारोबार
> आज हम आपको दिखाएगें गैंबलिंग रैकेट का काला सच –
गैंबलिंग रैकेट चला रहे लोगो को करेगें हम बेनकाब
> स्थानीय थाना पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद भी नहीं की कार्यवाही
> लेकिन दक्षिण पूर्वी दिल्ली डीसीपी ईशा पाण्डेय ने शिकायत मिलने के आधे घंटे के अन्दर ऑनलाइन कैसीनो की आड़ में चल रहे गैंबलिंग रैकेट को बंद कराने का किया सहरानीय कार्य।

विजय कुमार दिवाकर
थाना अमर कॉलोनी में गढ़ी की रमेश मार्किट में दो जगाहों पर बड़े पैमाने पर ऑनलाइन कैसीनो की आड़ में जुआ खिलाने की शिकायतें आ रही थी। स्थानीय लोगों ने बताया कि इन अवैध ऑनलाइन कैसीनो और जुआ रैकेट की वजह से काफी लोग बर्बाद हो गये है। खुल्ले आम चल रहे अवैध ऑनलाइन कैसीनो और जुआ रैकेट की चपेट में युवा वर्ग भी आ गया। ऑनलाइन कैसीनो की आड़ में चल रहे गैंबलिंग की सच्चाई जानने के लिए सनसनी ऑफ इंडिया टीम गढ़ी की रमेश मार्किट में गई। हमारी न्यूज टीम को पता चला की गढ़ी इलाके में कालका देवी मार्ग रमेश मार्किट में दो जगाहों पर ऑनलाइन कैसीनो की आड़ में गैंबलिंग का काला धंधा चल रहा है। हमारी न्यूज टीम खुफिया कैमरे के साथ सबसे पहले रमेश मार्किट में 198/12,13 फर्स्ट फ्लोर पर गई। यहां आधे दर्जन से भी ज्यादा कप्यूटरों पर ऑनलाइन कैसीनो की आड़ में गैंबलिंग का काला धंधा चल रहा था। हमारी न्यूज टीम को पता चला की यह कैसीनो बलविन्दर सिंह बग्गा नाम का एक व्यक्ति चलाता है। हमारे खुफिया कैमरे में मौके पर बलविन्दर सिंह बग्गा के मामा का लड़का जस्सी कैद हुआ जोकि उस समय ऑनलाइन कैसीनो की आड़ में गैंबलिंग के धंधे को आपरेट कर रहा था। आप देख सकते है कि कैसीनो की आड़ में गैंबलिंग का धंधा करने वाला जस्सी कंप्यूटर पर सबसे पहले कैसीनो की साइट पर लाॅगिन करता है फिर जुआ खेलने वाले से नगद पैसा लेकर उताना पैसा कैसीनो में लोड कर देता है। हमारी न्यूज टीम को यह भी पता चला कि कैसीनो की आड़ में गैंबलिंग खेलने वाला अगर विन होता है तो जस्सी उसे एक रूपये के 36 रूपये देता है। यहां हर रोज लाखों रूपये का गैंबलिंग का कारोबार हो रहा है। हमारी न्यूज टीम को यह भी पता चला की बलविन्दर सिंह बग्गा इस धंधे में काफी समय से है और दिल्ली में कई जगाहों पर उसके जुआ घर चल रहे है। बलविन्दर सिंह बग्गा ने गैंबलिंग के इस काले कारोबार से करोड़ो रूपयों की संपति बना ली है। बलविन्दर सिंह बग्गा की सच्चाई जानने के बाद हमारी न्यूज टीम रमेश मार्किट में ही थोड़ी दूरी पर चल रहे दूसरे गैंबलिंग के पते पर गई। दूसरी जगह ऑनलाइन कैसीनो की आड़ में गैंबलिंग का काला धंधा नुकुल बैसोया और अन्ना नामक व्यक्ति मिलकर चला रहे थे। आप देख सकते है बाहर बैसोया एण्ड कंपनी लिखा हुआ है। इसे देखकर कोई भी अन्दाजा नहीं लगा सकता है कि अन्दर गैंबलिंग का काला धंधा चल रहा है। हमारी न्यूज टीम खुफिया कैमरे के साथ अन्दर गई। आप देख सकते है कि यहां भी लाईन में एक दर्जन से भी ज्यादा कंप्यूटर लगे हुये है और जुआरी कंप्यूटरों पर ऑनलाइन जुआ खेल रहे है। अन्दर गुसते ही हमारी न्यूज टीम का सामना अन्ना से हुआ। अन्ना ने अपने आपको कैसीनो का डाॅन बताया आप भी सुनिये अन्ना क्या कह रहा है। सुना आपने अपने आपको गैंबलिंग का डाॅन बताने वाला अन्ना शराब पीते हुए खुद भी ताश के पतो से जुआ खेल रहा था। आप यहां भी देख सकते है की जुआरी ऑनलाइन जुआ खेलने के लिए छोटू नामक लड़के को नकद पैसा दे रहे है। छोटू कंप्यूटर में यूजर आईडी और पासवर्ड डालकर पैसा लोड कर रहा है। यहां भी अन्ना विन होने वाले का एक रूपये के 36 रूपये नगद दे रहा था। अन्ना के साथ पार्टनरशिप में गैंबलिंग का काला धंधा चला रहा नुकुल बैसोया गढ़ी गांव का ही रहने वाला है। स्थानीय लोगों से हमारी न्यूज टीम का पता चला है कि नुकुल बैसोया पहले साईकल पर चलता था लेकिन गैंबलिंग के धंधे से करोड़ों रूपये कमाकर पैसे वाला बन गया है। दोनो जगाहों के काले कारनामे सनसनी ऑफ इंडिया के खुफिया कैमरे में कैद हो गये थे और ऑनलाइन कैसीनो की आड़ में गैंबलिंग के काले धंधे की सच्चाई भी हमारे सामने आ गई थी। सच्चाई सामने आते ही हमारी न्यूज टीम ने अमर काॅलोनी थाना प्रभारी को उनके इलाके में चल रहे आॅनलाईन कैसीनो की आड़ में गैंबलिंग के काले धंधे से अवगत कराया। लेकिन अमर काॅलोनी थाना प्रभारी ने कार्यवाही करने की वजाये मामले को हल्के में ले लिया। इसके बाद हमारी न्यूज टीम ने दक्षिण पूर्व जिला डीसीपी ईशा पाण्डेय को अमर काॅलोनी थाना इलाके में ऑनलाइन कैसीनो की आड़ में चल रहे गैंबलिंग के काले धंधे के बारे में बताया। डीसीपी ईशा पाण्डेय ने सूचना मिलते ही आधे घंटे के अन्दर कार्यवाही करते हुए गैंबलिंग दोनो ठीकानो को बंद करवा दिया। डीसीपी ईशा पाण्डेय की इस कार्यवाही से स्थानीय लोगो में खुशी की लहर है। सनसनी ऑफ इंडिया नेटवर्क