महिलाओं को प्रभावित करने और हवाई सफर में स्पेशल ट्रीटमेंट पाने की खातिर एक शख्स पायलट बन गया. लेकिन एयरपोर्ट पर जांच के दौरान खुलासा हुआ कि उसका ड्रेस और आईडी कार्ड फर्जी है.

सनसनी ऑफ़ इंडिया
नई दिल्ली।
महिलाओं को रिझाने के लिए मर्दों को क्या क्या जतन नहीं करने पड़ते. महिलाओं से करीब होने की चाहत में पुरुष फर्जीवाड़ा, चोरी और नकली अधिकारी भी बनने में पीछे नहीं हटते. ऐसे ही एक शख्स हैं जिनका नाम है राजन महबूबानी. महबूबानी पर औरतों को प्रभावित करने की ऐसी सनक चढ़ी कि उन्होंने पायलट की वर्दी का सहारा लिया. एक साल पहले उन्होंने पायलट की वर्दी सिलवाई. और मिलिट्री का ड्रेस सिलवाकर अपने आप को कर्नल बताने लगा. पायलट के ड्रेस में महबूबानी फेसबुक और टिकटॉक पर औरतों से रौब झाड़ते. लेकिन महबूबानी का फर्जीवाड़ा ज्यादा दिनों नहीं तक चला. और औरतों को रिझाने की उनकी सनक ने उन्हें जेल का दरवाजा दिखा दिया.

महबूबानी लुफ्थांसा नमक व्यक्ति पायलट की ड्रेस पहनकर बना नकली पायलट

फेसबुक और टिकटॉक पर खुद को बताता था सेना का ऑफिसर
हवाई सफर में महबूबानी को स्पेशल ट्रीटमेंट पाने का भी शौक था. सोमवार को आरोपी इंदिरा गांधी एयरपोर्ट से कोलकाता का सफर करनेवाले थे. एयर एशिया की फ्लाइट पर सवार होने के विमान के स्टाफ को कुछ शक हो गया. उसने महबूबानी से पूछताछ शुरू की. जब स्टाफ को यकीन हो गया कि 48 वर्षीय व्यक्ति पायलट की वर्दी में फर्जी शख्स है तो उसने पुलिस को सूचित कर दिया. पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि आरोपी का आईडी कार्ड और वर्दी नकली है. आरोपी एयरलाइन के साथ रजिस्टर्ड भी नहीं था. पूछताछ में ये भी मालूम हुआ कि इससे पहले भी महबूबानी अपने आपको एयर एशिया का स्टाफ बताकर एयरपोर्ट की सुविधा हासिल कर चुका है. महबूबानी कई बार दिल्ली और कोलकाता का हवाई सफर कर चुके हैें. टेलीकॉम ब्रांड अपने यहां मैनेजमेंट ट्रेनिंग के लिए महबूबानी को बुलाती थीं. जिसमें महबूबानी अपने आपको आर्मी ऑफिसर बताकर परिचय करवाता. कोलकाता के रहनेवाले महबूबानी दिल्ली में पिछले कई दिनों से दोस्त के यहां दिल्ली में ठहरे हुए थे. उनका दोस्त भी यही समझता था कि महबूबानी लूथांसा विमान का पायलट है.